Thursday, June 13, 2019

विचार ( Thoughts )

आपके विचार ही आपको अच्छा-बुरा बनाते हैं| विचारों से ही व्यक्ति महान बनता है और विचारों से ही तुच्छ | सुन्दर विचार व्यक्ति के जीवन को सुखी बनाते हैं एवं अशुद्ध विचार व्यक्ति को दुखों एवं संकटों में फँसा देते हैं | विचारों को शुद्ध, परिपक्व एवं सुदृढ़ बनाएँ इन महान दार्शनिकों के मार्गदर्शन से और पाएँ जीवन का सच्चा आनन्द | 

मैले मन में अच्छे विचार वैसे ही मैले हो जाते हैं जैसे मैले बर्तन में साफ़ पानी अपनी अशुद्धता और पवित्रता को बैठता है | - महात्मा गाँधी 

⇨ सत्य में इतनी शक्ति होती है कि उसकी एक चिंगारी असत्य के पहाड़ी फूस को आसानी से भस्म कर सकती है | प्रेमचन्द

⇨ सुन्दर विचार, अनमोल धन है | - डी. पाल

⇨ विचार के सिवाय जगत और कुछ नहीं | जगत विचार का ही ठोस रूप है | - महर्षि रमण

⇨ मेघ वर्षा करते समय उपजाऊ और बंजर भूमि भेद नहीं करते | इसी प्रकार अपने सुन्दर ह्रदय के विचार धर्मी और अधर्मी दोनों पर व्यक्त करने चाहिएँ |
- तुकाराम 

⇨ बुरे विचार ही हमारी सुख-शान्ति के शत्रु हैं | - स्वेट मार्डेन 

⇨ जो कार्य बल और पराक्रम से पूर्ण हो पाता, उपाय द्वारा वह सरलता से पूर्ण हो जाता है | -  हितोपदेश

विचार ( Thoughts )
विचार ( Thoughts )

Share This
Previous Post
Next Post
Gaurav Hindustani

My name is Gaurav Hindustani. I am web designer by profession, but I am author by heart so Hindustani Kranti is a platform for all Authors and poets who write GOLDEN words and have special stories and poetries. You can send any time your words to me at gauravhindustani115@gmail.com.

0 comments: